सही बातें पढ़ने की आदत हो तो, सही काम करने की आदत अपने आप बन जाती है।

मंगलवार, 30 जून 2020

योग से मोटापा कम करने का अद्भुत विधि । Amazing method of reducing obesity through Yoga in Hindi

योग एक क्रिया है जिससे शारारिक और मानसिक संतुलन बनता है। मोटापा एक मनोवैज्ञानिक प्रक्रिया की शारीरिक अभिव्यक्ति है। यह असमय और खराब खाने की आदतों के वजह से मनुष्य मोटापा का शिकार हो जाता है और अधिक व्यायाम ना करने का भी यह दुष्परिणाम है। अगर मोटापा कम करना या नियंत्रण  है, तो योग को जीवन में अपनाना एक अच्छा विकल्प है।

https://lifebookin.blogspot.com/

सोच प्रक्रिया बदलें: स्वीकृति मानदंड -

जब तक आप यह स्वीकार नहीं करते कि हमारा अधिक वजन बढ़ गया है और मैं काफी मोटा हो गया हूँ और इसके लिए कुछ करना चाहिए।तब तक वजन कम और फिट बनने का प्रयास नहीं करेंगे। तो खुद  से मोटापे को स्वीकार करें और वजन कम करने के लिए अपनी जीवनशैली में छोटे बदलावों से शुरुआत करें। यह अभ्यास या जीवनशैली जैसे योग, खाना और आपका लाइफस्टाइल में धीरे- धीरे परिवर्तन लाकर अपने शरीर को या अपने आदत में शामिल करें। फिर धीरे धीरे आप हल्का महसूस करने लगेंगे कुछ दिन के बाद । लेकिन अपने अभ्यास को निरंतर अनुरूप रखें,क्योंकि वजन कम होने में समय लगता है।


स्वस्थ भोजन की आदतें और योग:

वजन कम करने के लिए आपको भूखे रहने की जरूरत नहीं है बस यह ध्यान रहे की आप क्या खाते हैं। समय पर खाना भी जरूरी है और रात का खाना हल्का खाना चाहिए। सुपाच और बिटामिन से भरपूर मात्रा वाला भोजन करना चाहिए। शरीर को डिटॉक्स करने के लिए  सप्ताह में एक बार उपवास करें। वजन कम करने के लिए संतुलित योग करें। जंक फूड और वातित पेय से बचें। शुरुआत में कम से कम 20 मिनट के लिए योग का अभ्यास करने के लिए खुद से पहल करें । प्रत्येक सप्ताह अपने आप को एक दिन का आराम दें।

योग करते समय यह ध्यान रखे की योगिक आसन आपकी उम्र और स्वास्थ्य के अनुकूल हो । हो सके तो किसी योग प्रशिक्षक से या ऑनलाइन कुछ समय के लिए योगा का ट्रेनिंग ले लें। शुरुआत में आपको तकलीफ भी हो सकता है। धीरे-धीरे वजन में कमी आती है और याद रखें कि अपने योग का अभ्यास करते रहें। सुनिश्चित करें कि आप कम करने के बाद वजन नहीं बढ़ा रहे हैं। योग तनाव को भी कम करता है। योगिक आसन और सांस लेने से अंतःस्रावी ग्रंथियों के सुचारू संचालन में मदद मिलती है और हार्मोनल असंतुलन के कारण वजन बढ़ता है। आसन और प्राणायाम प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं।आपको एलर्जी और अपच से भी छुटकारा मिलता है। आप कुछ समय बाद सतर्क और फ्रेश दिखने लगेंगे । योग का अभ्यास करने से आपको मांसपेशियों की टोन विकसित करने और अपने चयापचय में सुधार करने में मदद मिल सकती है।

https://lifebookin.blogspot.com/

 वजन कम करने वाला आसान योग -

सूर्य नमस्कार,त्रिकोणासन या त्रिकोण मुद्रा,वीरभद्रासन या योद्धा मुद्रा, पश्चिमोत्तानासन या आगे की ओर झुकना शरीर को लचीला बनाता है। बधा कंसाना या बाध्य कोण मुद्रा,उत्तानपादासन या विस्तारित पैर मुद्रा, नवासना या नौका मुद्रा, भुजंगासन या कोबरा मुद्रा,और उष्ट्रासन या ऊंट मुद्रा पेट की मांसपेशियों और पीठ के निचले हिस्से में खिंचाव करती है। भस्त्रिका,कपालभाति,औलोमा विलोमा जैसे प्राणायाम एंडोक्राइन सिस्टम को स्वस्थ बनाते हैं। ध्यान शरीर और मन को आराम देता है।


गुणवता नींद और योग -

योग का अभ्यास करने से आपकी नींद की गुणवत्ता में सुधार होता है। यह निरंतर योग अभ्यास से संभव हो पाता है आप अधिक गहरी नींद में आसानी से सोते हैं।अगर आपका वजन ज्यादा है तो नियमित रूप से आपको प्रत्येक रात छह से आठ घंटे जरूर सोना चाहिए। क्वालिटी नींद अक्सर वजन घटाने के लिए उपयोगी सिद्ध हुआ है।यह कुछ शोध से भी पता चलता है जो लोग गहरी नींद में सोते हैं उनका वजन तेजी से घटता है। और एक अच्छी नींद के लिए कुछ यह नियम अपना सकते हैं। 

गुणवता नींद के लिए योग निद्रा कर सकते हैं यह एक  विश्राम का एक रूप है जो आप लेटते समय करते हैं। यह अभ्यास आपको अधिक गहरी नींद लाने में मदद करता है और दिमाग का सचेतन बढ़ाता है। योग निद्रा के दौरान अपने वजन कम होते हुए कल्पना कर सकते हैं, जिससे वजन घटाने के लक्ष्यों को विकसित करने में आपकी मदद कर सकता है।योग निद्रा पर शोध के अध्ययन में पाया गया कि जो लोग आठ सप्ताह तक योग निद्रा लगातार किया वैसे लोगों का मस्तिष्क की कार्यक्षमता अन्य लोगों से कहीं अधिक था ।

मोटापा कम करने के लिए योग अभ्यास में निरतंरता बनाए रखने की चुनौती होती है। योग अन्य विधि से थोड़ा समय ज्यादा लेता है लेकिन यह प्राकृतिक रूप से मोटापा कम करता है। योग से वजन कम करने का अनुमानतः दर महीने में दो से तीन किलोग्राम है। इसलिए इससे अधिक का लक्ष्य न रखें। वजन कम करे के लिए आपका दीर्घकालिक लक्ष्य होना चाहिए और जल्दी में कोई भी ऐसे वैसे निर्णय ना लें नहीं तो वो आपके लिए हानिकारक हो सकता है । सही मायने में योग प्रशिक्षित विशेषज्ञ की देखरेख में करना चाहिए अन्यथा  गलत मुद्राओं के कारण ज्यादा समय लग सकता हैं ।

यह भी पढ़ें:आयुर्वेद तरीके से वजन कम करने के 4 बेहतरीन उपाय


1 टिप्पणी:

Please do not enter any spam link in the comment box